एक ऐसी नदी जिसका पानी सालों भर उबलता रहता है | Boiling river

boiling water river
Boiling River (Amazon’s Boiling River) बोले तो खौलते पानी की एक ऐसी नदी जिसके पानी में आप चाहो तो चावल पका लो, या मन करे तो चाय बना कर पी लो। अगर आप भूल से Boiling River के पानी में गिर गए तो आप भी पक जाओगे।

अब ये मत पूछना कि अमेज़न के इस Boiling River में गिरने के बाद जिन्दा बचेंगे या मर जायेंगे? मैं आपको एक बात बता देना चाहता हूँ कि इस Hot Water River में गिरने के बाद जिन्दा बचने का तो कोई सवाल ही नहीं है, मौत भी इतनी दर्दनाक होगी कि उसे देखकर अच्छे अच्छों की रूह कांप जाएगी। तो आइए जानते है मौत की इस नदी के बारे में कुछ विचित्र रोचक तथ्य

इस बोइलिंग रिवर की खोज आंद्रेज रूजो ने सन 2011 में की थी। इसकी खोज करने की घटना बहुत ही इंटरेस्टिंग है।

       इन्हें भी पढ़ें —

अपने बचपन में आंद्रेज रूजो ने अपनी दादी ने इस उबलते पानी वाली नदी की कहानी सुनी थी। उनकी दादी ने बताया था की अमेज़न के जंगलों में एक ऐसी नदी है जिसका पानी सालों भर उबलता रहता है। उस नदी का पानी इतना गर्म होता है कि उसमें गिरने के तुरंत बाद ही मौत हो जाती है।

इस घटना के 20 साल बाद आंद्रेज रूजो ने उस उबलते पानी वाली बोइलिंग रिवर की खोज करने की ठानी। फिर 2011 में उसकी मेहनत रंग लाइ और उसने अमेज़न के उस Boiling Water River की खोज की। इसके बाद ही बाहरी दुनियां के लोगों को उस बोइलिंग रिवर के बारे में पता चल पाया।

आंद्रेज रुज़ो ने इस गरम पानी की नदी का वर्णन अपनी किताब “द बॉयलिंग रिवर-एडवेंचर एंड डिस्कवरी इन द अमेजॉन” में किया है।

अमेज़न बेसिन में यह नदी घने जंगलों के बीचसे होकर गुजरती है। आज यह बोइलिंग रिवर एक पर्यटक स्थल बन चूका है। लोग दूर-दूर से इस नदी को देखने आते हैं।

Amazon’s Boiling River के इंटरेस्टिंग फैक्ट्स 

1.  Boiling River अमेज़न के जंगलों में बहती है जो कि विश्व की सबसे ज्यादे गर्म पानी की नदी है। इस नदी की लम्बाई 6.4 किलोमीटर, चौड़ाई 24 मीटर और गहराई 6 मीटर है।

2.  बोइलिंग रिवर के पानी का न्यूनतम तापमान 55 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 99 डिग्री सेल्सियस होता है। इस बोइलिंग रिवर का औसत तापमान लगभग 80 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहता है जो किसी भी जीव को मौत की नींद सुलाने के लिए बहुत ज्यादा है।  

3. इस नदी का पानी सालों भर गर्म रहता है। इस Boiling River के चारों तरफ गर्म पानी से उठने वाली भाप साफ-साफ दिखाई देती है। इस गर्म पानी की नदी में आप आलू उबाल सकते हैं, चावल पका सकते हैं और चाय भी बनाकर पी सकते हैं।

बोइलिंग रिवर का वैज्ञानिक कारण क्या है?

विज्ञान की नजर में ऐसी किसी भी उबलते पानी की नदी की सम्भावना सक्रीय ज्वालामुखी के नजदीकी स्थानों पर ही हो सकती है। जबकि अमेज़न बेसिन की यह नदी, एक सक्रिय ज्वालामुखी से लगभग 650 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

अभी तक वैज्ञानिकों के द्वारा की गई खोजों से इस बोइलिंग रिवर के रहस्य से पर्दा नहीं उठ पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.