Latest Jokes in Hindi | भूत कितने लोगों ने देखा है

Just for laughing read these latest jokes in hindi language.

एक बार एक कॉलेज के प्रोफेसर को अपने विद्यार्थियों का भूत-प्रेत के प्रति अन्धविश्वास के बारे में जानने की इच्छा हुई.

प्रोफेसर क्लास में गया और क्लास के विद्यार्थियों से बोला,

प्रोफेसर :- आज मैं तुम सभी विद्यार्थियों से जरा हटकर सवाल पूछूँगा और तुम सभी अपनी अपनी जानकारी के अनुसार सही-सही जवाब देना.

छात्र :- पूछिये सर!

प्रोफेसर :-  तुममें से कितने विद्यार्थी ऐसे हैं जो भूत के अस्तित्व में आस्था रखते हैं?

लगभग सभी विद्यार्थियों ने अपने-अपने हाथ खड़े कर दिए.

प्रोफेसर :- बहुत अच्छे!  अब ये बताओ कि तुममें से कितने विद्यार्थियों ने भूत को देखा है?

इस बार सिर्फ 10 विद्यार्थियों ने ही हाथ खड़े किये.

प्रोफेसर :- बहुत अच्छे! अब यह बताओ कि तुममें से कितने विद्यार्थियों ने भूत को बहुत ही नजदीक से देखा है?

इस बार तो सिर्फ 3 विद्यार्थियों ने ही हाथ खड़े किये.

प्रोफेसर :- शाबाश! अब ये बताओ कि तुममें से कितने विधार्थियों ने भूत को चूमा है?

इस बार क्लास के पिछले बेंच पे बैठा सिर्फ पप्पू ने ही अपना हाथ खड़ा किया.

प्रोफेसर :-  आज तक मैंने अपनी लाइफ में कोई भी ऐसा इंसान नहीं देखा है जिसने भूत को चूमा हो. जरा मेरे पास आना पप्पू.

पप्पू उठकर प्रोफेसर के पास चला गया.

प्रोफेसर :- अच्छा, तो तुम कह रहे थे कि तुमने भूत को चूमा है. अब जरा डिटेल में बताना इस बारे में कि तुमने कब, कहाँ और कैसे भूत को चूमा है?

पप्पू :- “भूत ? सॉरी सर!

दरअसल मैं पीछे बैठा था, मुझे भूत नहीं बल्कि कुछ और अलग ही सुनाई दिया था.”

अचानक से पुरे क्लास में घोर सन्नाटा छा गया.


More Latest Jokes in Hindi

 

एक हिरोइन की डायरी

एक बार एक फ़िल्मी हिरोइन एक फिल्म की शूटिंग के लिए

पानी की जहाज से सफर कर रही होती है!

पहले दिन की डायरी में उसने लिखा….


 

फनी शास्त्र का फनी ज्ञान

ये जो तुम किसी ठेले वाले से सेव का भाव पता करते करते

उसके दो चार अंगूर यूँ ही खा जाते हो न !

शास्त्रों में इसे ही “अक्षम्य अपराध” कहा गया है…  और…


 

बीवी जब पैसे मांगे तो दे दो

पत्नी– सुनो जी, मुझे 5 हजार रुपये दे दो !

पति– नहीं है !

पत्नी– तो 3 हजार दे दो !

पति– नही हैं !

पत्नी– अच्छा तो फिर आज के बाद मुझे छूना भी मत…..

Leave a Reply

Your email address will not be published.