पूजा में शंख बजाने का वैज्ञानिक कारण | Shankh bajane ke fayde

shankh bajane ke fayde

Hindu puja me “shankh bajane ke fayde” kya hain? Rojana “shankh bajana” sehat ke liye faydemand kaise hai?

हिन्दू पूजा-पद्धति में पूजा के समय शंख बजाना बहुत ही शुभ और पवित्र माना जाता है। शंख समुद्र से प्राप्त एक ऐसी पवित्र चीज है जिसका सनातन काल से ही धार्मिक और आध्यात्मिक महत्व रहा है।

हिन्दू धर्म के किसी भी धार्मिक कृत्य जैसे पूजा, हवन, यज्ञ इत्यादि में शंख नाद करना अत्यंत ही जरुरी और पवित्र समझा जाता है। हिन्दू संस्कृति में बगैर शंख नाद के कोई भी पूजा संपन्न नहीं होती है।

यह शंख की पवित्रता ही है जो हिन्दुओं के सबसे बड़े देवता भगवान् विष्णु के एक हाथ में शंख सदा विराजमान रहता है। हमारे धर्म शास्त्रों में शंख को जिंदगी में उन्नति लानेवाला बताया गया है। लेकिन यहाँ हम शंख के उन तथ्यों के बारे में जानेंगे जो विज्ञान के द्वारा सिद्ध हैं।

Shankh bajane ke 4 fayde –

1.  नासा के नए शोधों से यह पता चला है कि शंख बजाने से खगोलीय उर्जा या ब्रह्मांडीय उर्जा का उत्सर्जन होता है। यह ब्रह्मांडीय उर्जा मानव जीवन में सकारात्मक शक्ति का संचार करती है। यह सकारात्मक शक्ति हमारे मन मस्तिष्क और शरीर को उर्जावान एवं तरोताजा रखती है।

2.  शंख बजने से उससे निकलने वाली तरंगों के आघात से वातावरण में मौजूद हानिकारक कीटाणु नष्ट हो जाते हैं। शंख की ध्वनि इतनी प्रभावशाली होती है कि उससे मलेरिया के मच्छर भी खतम होते हैं।

3.  शंख सत-प्रतिशत कैल्सियम का बना होता है। इसलिए इसमें रात को पानी भरकर सुबह में उसे पीने से हमारे शरीर को कैल्सियम की पूर्ति होती है। इसके फलस्वरूप हमारी हड्डियाँ मजबूत होती हैं।

4.  शंख बजाना हमारे फेफड़ों के लिए व्यायाम होता है। हिन्दू पुराणों में शंख बजाने के बारे में ऐसा जिक्र मिलता है, कि नियमित रूप से शंख बजाने से श्वास सम्बंधित बीमारी से ग्रसित व्यक्ति ठीक हो जाता है।

Ye hain “shankh bajane ke fayde” jinse pata chalta hai ki hamari Bhartiy sanskriti kitni adhik vaigyanik hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published.