भोला भगवान् शंकर का बहुत बड़ा भक्त था। उसे जब भी समय मिलता वह भगवान् शंकर की भक्ति में लीन हो जाता। एक दिन भगवान शंकर उसकी भक्ति पर प्रसन्न होकर उसे एक वरदान मांगने को बोला। 
वरदान मांगने से पहले भोला अपने घर गया और घरवालों से भगवान शंकर के वरदान मांगने वाली बात बताई।
भोला के अंधे पिता ने उसे वरदान के रूप में अपने लिए आँखों की रौशनी मांगने को बोला। भोला की बीवी ने उसे वरदान के रूप में अपनी सुनी कोख के लिए एक पुत्र मांगने को कहा। और भोला के माँ ने अपनी गरीबी दूर करने के लिए

“paheli new” me aapko batana hai ki bhola bhagwan shankar se kaun sa ek vardan maange ki uske mata pita aur patni, tinon ki ichchha puri ho jaye?

भोला भगवान् शंकर का बहुत बड़ा भक्त था। उसे जब भी समय मिलता वह भगवान् शंकर की भक्ति में लीन हो जाता। एक दिन भगवान शंकर उसकी भक्ति पर प्रसन्न होकर उसे एक वरदान मांगने को बोला। 

वरदान मांगने से पहले भोला अपने घर गया और घरवालों से भगवान शंकर के वरदान मांगने वाली बात बताई।

भोला के अंधे पिता ने उसे वरदान के रूप में अपने लिए आँखों की रौशनी मांगने को बोला।

भोला की बीवी ने उसे वरदान के रूप में अपनी सुनी कोख के लिए एक पुत्र मांगने को कहा।

और भोला के माँ ने अपनी गरीबी दूर करने के लिए उसे बहुत सारा धन मांगने को बोला।

अब भोला को कुछ समझ नहीं आ रहा कि वह क्या करे? भगवान शंकर ने उसे सिर्फ एक वरदान मांगने को बोला है और उसे मांगने हैं तीन वरदान।

अब आप बताइए, भोला भगवान शंकर से क्या मांगे कि उसके माता-पिता और पत्नी, तीनों की इच्छा पूरी हो जाए?

जवाब : “उसका पिता अपने पोते को सोने के झूले में झूलता हुआ देखना चाहता है” 


Solve more “paheli new” in Hindi

थानेदार ने राघव का अपराध कैसे पकड़ा?

गरमी की छुट्टियों में राघव और उसकी बीवी रागिनी मनाली घुमने गए थे। मनाली में वे दोनों पुरे एक हफ्ते तक रुके और इस दरम्यान …..


सोने का नकली बिस्किट पहचानने में आकांक्षा की मदद कीजिए

आकांक्षा के पास सोने के सात सिक्के हैं। लेकिन उनमे से एक नकली है और उसका वजन बाकी के 6 सिक्कों से थोड़ा सा कम है….


लुटेरे ने एयर होस्टेस से दो पैराशूट क्यों माँगा?

एक बार एक जहाज भारत से अमेरिका जा रहा था। बीच रास्ते में ही एक लुटेरा अपने गन का भय दिखाकर उस जहाज को हाईजैक कर लेता है….

Tagged : # # # #

Leave a Reply

Your email address will not be published.