राजा रानियों के लिए कितने मोती लाया था | Paheliyan Hindi

Paheliyan Hindi

आज आपको इस हिंदी पहेली (Paheliyan Hindi) में यह बतलाना है इस हिंदी पहेली (Paheliyan Hindi) के अनुसार राजा ने कुल कितने मोती ख़रीदे थे?

एक राजा की सात रानीयां थीं। राजा उन सातों रानियों से बहुत प्यार करता था। राजा एक बार विदेश गया और वहां उसने अपनी सातों रानियों के लिए कुछ दुर्लभ मोती ख़रीदा।  

वापस लौटकर राजा ने अपनी सातों रानियों से कहा कि, ये कुछ दुर्लभ मोती मैंने तुम सभी के लिए ख़रीदा है। कल सुबह तुम सातों इन सभी मोतियों को आपस में बराबर-बराबर बाँट लेना। इतना कहकर राजा अपने शयनकक्ष में आराम करने चला गया।

अगले दिन सुबह में पहली रानी आई और उसने सभी मोतियों को सात बराबर हिस्से किए और फिर वह अपना हिस्सा लेकर चली गई।

थोड़ी देर बाद दूसरी रानी आई। जानकारी न होने कि वजह से उसने बाकी बचे सभी मोतियों को फिर से सात बराबर हिस्सा किया। लेकिन सात हिस्सा करने के बाद भी कुछ मोती शेष बच गए। फिर उसने अपना हिस्सा और शेष बचे हुए मोतियों को लेकर चली गई।

कुछ देर बाद तीसरी रानी आई। उसे भी जानकारी न होने की वजह से उसने भी बाकी बचे सभी मोतियों को फिर से सात बराबर हिस्सों में बांटा। लेकिन अबकी बार भी सात बराबर हिस्से करने के बाद भी कुछ मोती शेष बच गए। उसने भी अपना हिस्सा और शेष बचे मोतियों को लेकर चली गई।

फिर इसी तरह चौथी, पांचवी और  छठी रानियों ने भी वही किया जो दूसरी और तीसरी रानियों ने किया था।

लेकिन सातवीं रानी कुछ ज्यादा ही सायानी निकली। वह बचे हुए सभी मोतियों को लेकर चुपचाप चली गई।

लेकिन आश्चर्यजनक रूप से सभी सातों रानियों के पास बराबर-बराबर मोती आए।

अब आपको बताना है कि, राजा ने कुल कितने मोती ख़रीदे थे? और हर एक रानियों के हिस्से कितने कितने मोती आए?

42


More Funny Paheliyan in Hindi

 

सात लालची बाभन और कितनी मोहरें?

एक बार एक राजा ने सात बाभनों को बहुत सारी मुहरे (सोने के सिक्के) दान में दी।

वे सातों बाभन उन मोहरों को लेकर खुशी-खुशी अपने घर को चल दिए। 

उनका घर राजमहल से काफी दूर था।  रास्ते में एक जंगल पड़ता था।  वह सातों बाभन जंगल में जाते-जाते थक गए थे।


 

मोहन ने कुल कितने सेव ख़रीदे?

मोहन की 3 गर्लफ्रेंड थीं, जिनके नाम रिया, मोना और सुजाता था।

एक बार तीनों की तवियत ख़राब हो जाती है। तीनों एक ही हॉस्पिटल के तीन अलग-अलग कमरों में भर्ती होती हैं।

मोहन फल वाले से कुछ सेव खरीदता है और सभी सेव को एक थैले में लेकर उनसे मिलने हॉस्पिटल पहुँच जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.