Santa Banta ke Jokes | संता का जन्मदिन

Just for laughing read this “Santa Banta ke jokes.

कल संता का जन्मदिन था और कल सुबह वह यह सोचते हुए उठा कि आज तो सभी लोग मुझे विश करेंगे !

मगर ये क्या ?

न तो उसकी बीबी प्रीतो ने उसे विश किया और न ही उसके बच्चों ने,

बेचारा संता बड़े ही दुखी मन से ऑफिस के लिए निकला।

जब वह बहुत ही दुखी मन से ऑफिस के अपने केबिन में जा रहा था,

तभी उसकी खूबसूरत सेक्रेटरी बोली:- “जन्मदिन मुबारक हो सर !”

इतना सुनते ही संता बहुत खुश हुआ,

फिर उस खुबसुरत सेक्रेटरी ने संता से कहा – “चलिए न सर !

हम लंच के लिए कहीं बाहर चलते हैं और एक साथ लंच करते हैं !”

फिर संता और खुबसुरत सेक्रेटरी मजे से लंच करते हैं,

और फिर लंच करने के बाद सेक्रेटरी बोलती है:-

“सर, क्या मेरे साथ मेरे घर चलोगे आप ?

आज आपके जन्मदिन की ख़ुशी पे मुझे आपको कुछ खास तोहफा देना है !”

इतना सुनते ही संता के मन में लड्डू फूटने लगे !

संता बड़ी खुशी से उसके घर चला गया !

फिर संता को अपने बैडरूम में बिठा कर वो बोली:-

“सर, मैं 5 मिनट में बाथरूम से होकर अभी आई !”

संता  ख़ुशी से बोला:- “ठीक है ! जरा जल्दी आना , तब तक मैं !”

कुछ देर बाद जब वो अंदर आई तो उसके हाथ में केक था,

और साथ में संता कि बीबी प्रीतो और संता के बच्चे भी !

और संता उसके इंतज़ार में बेड पर नं*गा बैठा हुआ था।


More Santa Banta ke Hindi Jokes

 

शादी के बाद की जिंदगी

संता:- और सुना भाई बंता, शादी के बाद तेरी जिंदगी कैसी कट रही है ?

बंता:- “एकदम बिंदास भाई,

हम दोनों की आपस में बहुत ही अच्छी अंडरस्टैंडिंग है !सुबह उठते ही….


 

गीता ज्ञान का खतरनाक असर

संता ने अपने बेटे पप्पू को भागवत गीता पढ़ने को दी थी.

उसके एक हफ्ते बाद…

संता:- तुमने गीता पढ़ ली ? इस ग्रन्थ से तुम्हें क्या शिक्षा मिला ???


 

संता के उदासी का कारण

सुबह सुबह संता (Santa) मुंह लटकाए उदास होकर बैठा था.

बंता (Banta) ने उससे उसकी उदासी का कारण जानना चाहा.

संता:- अब क्या बताऊँ यार! बात ही कुछ ऐसी है…..

Leave a Reply

Your email address will not be published.